क्या है आरोग्य सेतु एप्प, कोरोना से कैसे बचाएगा आपको

Aarogya Setu App Kya Hai - What is Aarogya Setu App

Aarogya Setu App Kya Hai
भारत सरकार ने Coronavirus  को कण्ट्रोल करने के लिए Aarogya Setu मोबाइल एप लॉन्च किया है। सरकार इस एप के जरिए  इंफेक्टिव लोगों की लोकेशन को ट्रैक कर सकेगी। और साथ ही सरकार इस के जरिए यह जान सकेगी कि यूजर्स मरीजों के संपर्क में है या नहीं। और सरकार इससे पहले भी कोरोना कवच(Corona Kavach) नाम के  एप्प को लॉन्च कर चुकी है। आरोग्य सेतु एप के लॉन्च होने के कुछ ही समय में एक करोड़ से अधिक लोगों ने इसे डाउनलोड किया है. आइए, जानते हैं कि आरोग्‍य सेतु एप का इस्‍तेमाल कैसे करते है...


अरोग्या सेतु ऐप सरकारी है या निजी - Aarogya Setu App is Government or Private

अरोग्या सेतु COVID-19 के खिलाफ हमारी संयुक्त लड़ाई में भारत के लोगों के साथ आवश्यक स्वास्थ्य 
सेवाओं को जोड़ने के लिए भारत सरकार द्वारा विकसित एक मोबाइल एप्लिकेशन है। ऐप का उद्देश्य भारत सरकार, विशेष रूप से स्वास्थ्य विभाग की पहल को बढ़ाने के लिए है, जो कि Coronavirus से संबंधित जोखिमों, सर्वोत्तम प्रथाओं और प्रासंगिक सलाह के संबंध में एप्लिकेशन के उपयोगकर्ताओं तक पहुंचने और उन्हें सूचित करने के लिए सक्रिय रूप से है।

आरोग्य सेतु एप्प कैसे करता है काम (How Aarogya Setu App Works in hindi)


Aarogya Setu App लोकेशन (Aarogya Setu for android) को ट्रैक करता है। और साथ ही यह App Bluetooth के जरिए यह पता लगाता है कि यूजर इंफेक्टिव मरीजों के संपर्क में है या नहीं। और साथ ही दोनों में कितनी दूरी है। इसके अलावा यह App अपने यूजर को Covid-19 से बचने की tips भी देता है।

एप्प में "Chatbot" है शामिल


Aarogya Setu एप्प में एक चैटबॉट है, जो यूजर्स को इस वायरस से संबंधित सभी सवालों के जवाब देता है। और साथ ही यह भी बताता है कि एप्प यूजर्स में इस वायरस के लक्षण है या नहीं। और दूसरी तरफ इस एप्प में कई राज्यों के Helpline No. भी मौजूद हैं।

आरोग्य सेतु एप्प का इस्तेमाल कैसे करें - How to Use Aarogya Setu App

  • सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर से Aarogya Setu एप्प को install कर लीजिए।   
     Aarogya Setu App Download Link:- Aarogya Setu

Aarogya Setu App Kya Hai
  • और उसके बाद एप्प खोलने के बाद आरोग्य सेतु ऐप को फोन नंबर से रजिस्टर कर ले। फोन नंबर डालने पर एक OTP आएगा, जिसे इंटर करने पर ऐप में रजिस्ट्रेशन हो जायेगा।
  • इसके बाद ऐप आपसे Bluetooth और GPS का ऐक्सिस मांगता है
  • एप्प खोलने पर पर्सनल डीटेल्स पूछी जाती हैं, जिनमें जेंडर, नाम, उम्र, और पिछले 30 दिनों की ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में पूछा जाता है।
  • इसके बाद आप एप्प की भाषा भी चुन सकते हैं
  • अगर आप चाहें तो जरूरत और संकट के वक्त में खुद को वॉलिंटियर के तौर पर रजिस्टर कर सकते हैं
Aarogya Setu App एक सोशल ग्राफ का इस्तेमाल करता है जिससे Low और High Risk की Category का पता चलता है। यह Social Graph लोकेशन डिटेल्स के आधार पर बनता है। जब भी आप लो या हाई-रिस्क कैटिगरी में आएंगे तो आपको अलर्ट करता है। हाई-रिस्क कैटिगरी में आने पर एप्प  टेस्ट सेंटर जाने के लिए आपको नोटिफाई करेगा।

Post a comment

0 Comments